करनाल-हरियाणा

कर्मचारियों-अधिकारियों को सर्विस रूल्स की पूरी जानकारी होनी चाहिए: सुरेश सैनी

WhatsApp Image 2024-04-18 at 10.57.41
WhatsApp Image 2024-05-16 at 10.08.18
WhatsApp Image 2024-05-18 at 13.02.08
WhatsApp Image 2024-05-18 at 13.01.50
previous arrow
next arrow
WhatsApp Image 2024-04-08 at 17.25.32
WhatsApp Image 2024-03-03 at 00.25.49
WhatsApp Image 2024-04-24 at 21.43.09
WhatsApp Image 2024-04-25 at 09.18.36
WhatsApp Image 2024-05-08 at 12.33.24
WhatsApp Image 2024-05-12 at 12.50.39
previous arrow
next arrow

कर्मचारियों-अधिकारियों को सर्विस रूल्स की पूरी जानकारी होनी चाहिए: सुरेश सैनी

करनाल

महाराणा प्रताप उद्यान विश्वविद्यालय करनाल में लोक प्रशासन संस्थान रोहतक (हिपा) द्वारा ट्रेनिंग ऑफ सर्विस रूल्स को लेकर दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का समापन एमएचयू कुलपति डॉ. सुरेश मल्होत्रा के मार्ग दर्शन में शुक्रवार को संपन्नन हुआ। समापन कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के तौर पर एमएचयू के कुलसचिव व ईओ सुरेश सैनी ने विशेष तौर से शिरकत की। प्रशिक्षण शिविर में एमएचयू व एचटीआई के 25 कर्मचारियों, अधिकारियों ने भाग लिया।

एमएचयू के कुलसचिव सुरेश सैनी ने हिपा द्वारा एमएचयू के कर्मचारियों, अधिकारियों को सेवा के नियमों के बारे में हर नई जानकारी देने के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि कर्मचारी को डयूटी के नियमों के बारे में हर जानकारी होनी चाहिए, जिससे उसे काम के दौरान किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। ऐसी ट्रेनिंग हर कर्मचारी के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती हैं, उन्हें सर्विस रूल्स के बारे में हर तरह की जानकारी मिलती हैं। जिस कर्मचारी, अधिकारी को सेवा के नियमों के बारे में हर जानकारी होती हैं, उसका काम बिना किसी के बाधा के निर्बाध रूप से चलता रहता हैं। हिपा कॉर्डिनेटर वेद प्रकाश असीजा ने कर्मचारियों, अधिकारियों को सेवा नियमों के सामान्य ज्ञान के बारे जानकारी देते हुए अवकाश के नियम, इनकम टैक्स, पैंशन के बारे में विस्तार से जानकारी दी। विजिलेंस विभाग रोहतक के अकाउंट अधिकारी राजेश मलिक ने मेडिकल क्लेम ओर केशलेस पॉलिसी के बारे में बताया। यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंस रोहतक के चीफ अकाउंट अधिकारी राजेश कुमार ने पे-फिक्सेशन ओर परचेज के नियमों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम कॉर्डिनेटर डॉ. विजय अरोड़ा ने कहा कि इस तरह की ट्रेनिंग हमारे कर्मचारियों, अधिकारियों के लिए बहुत लाभकारी होती हैं। उन्होंने कहा कि हिपा ने हमारी यूनिवर्सिटी में ही ट्रेनिंग उपलब्ध कराई। भविष्य में भी ऐसी ट्रेनिंग कर्मचारियों, अधिकारियों को उपलब्ध करवाई जाएगी।कार्यक्रम के अंत में रजिस्ट्रार सुरेश सैनी द्वारा प्रतिभागियों को सर्टिफिकेट वितरित किए।

50% LikesVS
50% Dislikes

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
close